Course

संचालित पाठ्यक्रम एवं विषय का चयन

बुंदेलखंड विश्वविद्यालय, झाँसी के निर्धारित नियमानुसार महाविद्यालय में स्नातकोत्तर स्तर पर हिंदी एवं समाजशास्त्र विषय तथा स्नातक स्तर पर त्रिवर्षीय पाठ्यक्रम के निम्नलखित विषयों के अध्ययन की व्यवस्था है।

  • बी. ए. प्रथम वर्ष में निम्नलिखित चार भाषायों में से एक भाषा का चयन करना अनिवार्य है।
    (१) हिंदी भाषा
    (२) संस्कृत भाषा
    (३) उर्दू भाषा
    (४) अंग्रेजी भाषा
  • एक भाषा के साथ निम्नलिखित विषयों में से तीन विषयों का चयन किया जायेगा।
  • (१) हिंदी साहित्य
    (२) अंग्रेजी साहित्य
    (३) उर्दू साहित्य
    (४) संस्कृत साहित्य
    (५) समाजशास्त्र
    (६) इतिहास
    (७) राजनीति विषय
    (८) अर्थशास्त्र
    (९) शिक्षाशास्त्र
    (१०) गृह विज्ञानं
    (११) संगीत गायन
    (१२) संगीत वादन
    (१३) शारीरिक शिक्षा ( सम्बद्धता प्राप्त होने पर)
  • प्रवेशार्थी को विषयों का आवंटन इंटर में लिए गए विषयों के अनुसार किया जायेगा परन्तु प्रत्येक दिशा में सीट की उपलब्धता सर्वोपरि होगी। विश्वविद्यालय द्वारा प्रत्येक विषय में सीटे निर्धारित है जिनका आवंटन मेरिट के क्रम में किया जाता है। किसी विषय में निर्धारित संख्या से अधिक प्रवेश नहीं दिया जा सकता। अतः ऐसी स्थति में प्रवेशार्थी को वांछित विषय नहीं दिए जा सकते।
  • एक साथ तीन साहित्यिक विषय/ तीन प्रयोगात्मक विषय का चयन नहीं किया जा सकता।
  • स्नातक प्रथम वर्ष में पर्यावरण विषय अनिवार्य है। अनुतीर्ण होने / अनुपस्थित रहने पर दितीय अथवा तृतीय वर्ष में उत्तीर्ण करना आवश्यक है।
  • व्यवसायिक पाठ्यक्रम से उत्तीर्ण अभ्यर्थियों के मेरिट निर्धारण में उप विषयों के किसी एक विषय (७०० अंक ) को छोड़कर अन्य विषयों में अर्जित अंको (३०० अंको के अंतर्गत प्राप्तांक ) के औसत के आधार पर प्रवेश सूचकांक तैयार किये जायेगे। व्यवसायिक पाठ्यक्रम से उत्तीर्ण प्रवेशार्थियों को महाविद्यालय द्वारा आवंटित विषयों का चयन होगा।