Admission Procedure

प्रवेश आवदेन पत्र भरते समय ध्यान रखने योग्य बातें :

  • सभी प्रवेशार्थी आवदेन पत्र की समस्त प्रविष्टियों को सुस्पष्ट रूप से स्वाम भरे। जिन प्रविष्टियों से उनका कोई सम्बन्ध नहीं है, अथवा जिनकी सूचना देना उनके लिए आवश्यक नहीं है, उन कालमो में (X) का चिन्ह लगा दे ।
  • प्रवेश आवदेन पत्र में अपना वही नाम अंकित करे जो हाई स्कूल प्रमाण पत्र में है
  • शैक्षिक योग्यता विवरण की समस्त प्रविष्टीयां सुस्पष्ट और सही रूप से न भरी होने की स्थिति में प्रवेश हेतु विचार करना संभव नहीं होगा।
  • प्रवेशार्थी अपना पासपोर्ट आकर का नवीनतम छाया चित्र (फोटो) प्रवेश आवदेन पत्र, शास्ता मंडल प्रपत्र, परिचय पत्र एवं छात्रव्रत्ति आवदेन पत्र पर यथा स्थान चिपकाएँ

सलघनकों का विवरण: स्नातक कक्षयों के प्रवेशार्थी प्रवेश आवदेन पत्र भरते समय निम्नलिखित प्रपत्र संलग्न करे। साक्षात्कार के समय समस्त मूल अभिलेख साथ लाना अनिवार्य है।

  • जन्मतिथि के लिए हाई स्कूल का सत्यापित प्रमाण पत्र
  • हाई स्कूल तथा इंटरमीड़ीयट की सत्यापित अंक तालिका (स्नातक एवं स्नातकोत्तर प्रथम वर्ष के प्रवेशार्थी ) संल्घन करे ।
  • पिछड़ी जाति / अनुसूचित जाति/ अनुसूचित जनजाति के प्रवेशार्थी जाति प्रमाण पत्र की सत्यापित प्रति सलघन करे अन्यथा उनकी मेरिट सामान्य अभ्यर्थियों की भातिं निर्धारित की जाएगी
  • महाविद्यालय में प्रथम बार नया प्रवेश लेने वाले अभ्यर्थियों को अंतिम संस्था से प्राप्त मूल स्थानान्तरण प्रमाण पत्र एवं चरित्र प्रमाण पत्र सलघन करना होगा। प्रवेश आवेदन पत्र जमा करते समय यदि किसी करणवश स्थानान्तरण प्रमाण पत्र उपलब्ध न हो तो साक्षात्कार के समय भी प्रस्तुत किया जा सकता है।
  • शारीरिक विकलांगता का प्रमाण पत्र (यदि लागू हो )
  • स्वतंत्रता संग्राम / युद्द में मारे गए / अपंग सैनिक, भूतपूर्व सैनिक के पाल्य का प्रमाण पत्र (यदि लागू हो तो)
  • समस्त नए अभ्यर्थी अंतिम संस्था से मिला चरित्र प्रमाण पत्र की मूल प्रति सलघन करे। यदि किसी अभ्यर्थी ने पूर्व परीक्षा को व्यक्तिगत छात्रा के रूप से उत्तीर्ण किया हो तो वह राज पत्रित अधिकारी / सांसद / विधायक आदि से मिला हुआ नवीनतम मूल चरित्र प्रमाण पत्र (६ माह से अधिक पुराना नहीं हो) की मूल प्रति सलघन करे
  • यदि अभ्यर्थी को किसी खेलकूद में प्रदेश स्तरीय / एन. सी. सी. में 'बी.' सर्टी में सहभागिता अथवा पाठ्येत्तर कार्यकलाप में प्रवीणता मिली हो तो उसकी भी प्रमाणित प्रतिलिपि को सलघन करे
  • यदि अभ्यर्थी बांदा जनपद के अतिरिक्त्त किसी अन्य जनपद से इंटर की परीक्षा उत्तीर्ण की है तो स्थानान्तरण प्रमाण पत्र सम्बंधित जनपद के जिला विद्यालय निरीक्षक द्वारा अभिप्रमाणित होना चाहिए।
  • राजकीय महाविद्यालय में कार्यरत/ कर्मचारी के आश्रित का प्रमाण पत्र

विशेष : अपूर्ण आवदेन पत्र स्वीकार नहीं किये जायेगे

स्नातक द्वितीय एवं तृतीय वर्ष में प्रवेश :

  • स्नातक द्वितीय, तृतीय एवं स्नातकोत्तर द्वितीय वर्ष में केवल उन्ही छात्रायों को प्रवेश दिया जायेगा, जिन्होंने प्रथम / द्वितीय वर्ष की परीक्षा उत्तीर्ण कर ली हो तथा इसी महाविद्यालय की संस्थागत छात्रा रही हो । अनतराल की स्थिति में स्थान रिक्त रहने पर ही प्रवेश देने पर विचार किया जा सकता है।
  • स्नातक द्वितीय / तृतीय एवं परास्नातक द्वितीय वर्ष के प्रवेशार्थी विगत वर्षों की अंक तालिका, हाईस्कूल प्रमाण पत्र और अनुसूचित जाति / जनजाति अथवा अन्य पिछड़ा वर्ग का जाति प्रमाण पत्र अवश्य सलघन करे। विगत वर्ष की अंक तालिका विश्वविद्यालय द्वारा निर्गत न होने की स्थिति में इन्टरनेट द्वारा प्राप्त अंक पत्र के आधार पर प्रवेश दिया जायेगा, परन्तु मूल अंक पत्र आ जाने पर उसकी छाया प्रति जमा करना अनिवार्य होगा।
  • स्नातक द्वितीय वर्ष एवं तृतीय वर्ष के प्रवेशार्थी यदि पर्यावरण अध्ययन विषय में उत्तीर्ण हो चुके हो तो प्रवेश आवदेन पत्र के चयनित विषय के कॉलम में अंकित पर्यावरण अध्ययन को क्रास (X) कर दे ।
  • स्नातक तृतीय वर्ष के प्रवेशार्थी स्नातक द्वितीय वर्ष परीक्षा में चयनित विषयों में किन्ही दो विषयों का चयन कर सकते है।
  • स्नातक द्वितीय वर्ष में तीन विषय होते है, प्रत्येक वर्ष के ५०-५० अंको के दो प्रशन पत्र होते है।
  • स्नातक तृतीय वर्ष में दो विषय होते है परन्तु प्रत्येक विषय में ५०-५० अंको के तीन प्रशन पत्र होते है।